एचआरटीसी बस पास बनेंगे ऑनलाइन - निगम प्रबंधन ने सॉफ्टवेयर किया तैयार, लंबी लाइनों से मिलेगा छुटकारा

News Updates Network
0
न्यूज अपडेट्स 
शिमला, 26 दिसंबर: प्रदेश में एचआरटीसी बसों के पास ऑनलाइन बनाए जाएंगे। एचआरटीसी प्रबंधन ने ऑनलाइन बस पास बनाने के लिए सॉफ्टवेयर तैयार किया है। नए साल में प्रदेश के कालेज छात्र-छात्राओं को एचआरटीसी प्रबंधन नई सुविधा देगा। इस सुविधा के तहत अब कालेज छात्र-छात्राओं के लिए ऑनलाइन पास बनेंगे और पास बनाने के लिए बस अड्डों पर लंबी लाइनों में खड़े रहकर इंतजार नहीं करना पड़ेगा। 

इसके लिए निगम प्रबंधन ने सॉफ्टवेयर तैयार कर लिया है। जल्द ही इस सॉफ्टवेयर पर कालेज छात्र छात्राओं को निगम की वेबसाइट पर ये सुविधा शुरू हो जाएगी। शिमला में पहले चरण मेंं यह सुविधा शुरू की जाएगी। उसके बाद यह सुविधा प्रदेश भर में लागू की जाएगी, जिससे प्रदेश के शिक्षण संस्थानों के लाखों विद्यार्थियों को राहत मिलेगी।

निगम प्रबंधन की इस पहल के तहत कालेज के छात्र-छात्राएं बस पास बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। आवेदन करने के साथ-साथ छात्र ऑनलाइन ही निर्धारित किराए का भी ऑनलाइन भुगतान कर सकेंगे। एचआरटीसी की वेबसाइट पर उपलब्ध ऑनलाइन पास लिंक पर आवेदन करने के बाद आवेदनकर्ता का फॉर्म सीधे कालेज प्रधानाचार्य तक पहुंच जाएगा। वहीं, कालेज के प्रधानाचार्य द्वारा आवेदन सत्यापित करने के बाद आवेदन संबंधित क्षेत्रीय प्रबंधक के पास पहुंच जाएगा। क्षेत्रीय प्रबंधक द्वारा औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद संबंधित छात्र को एसएमएस के माध्यम से पास जारी कर दिया जाएगा।

ऑनलाइन फार्म भरने के बाद खुद पूरी होगी प्रक्रिया:एचआरटीसी प्रबंधन की इस पहल से कालेज के विद्यार्थियों का पास बनाने के लिए समय बर्बाद नहीं होगा। एक बार ऑनलाइन फार्म भरने की बाद पूरी प्रक्रिया अपने आप हो जाएगी और पास बनकर आ जाएगा। उधर, एचआरटीसी के एमडी रोहन चंद ठाकुर का कहना है कि ऑनलाइन बस पास बनाने के लिए सॉफ्टवेयर तैयार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि नए साल से ऑनलाइन बस बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)
To Top