हिमाचल : कुल्लू दशहरे में प्रशासन की खुली पोल, राहत राशि के नाम पर किया मजाक, फायर ब्रिगेड में नहीं था पानी

Anil Kashyap
0
न्यूज अपडेट्स 
कुल्लू, 30 अक्टूबर: अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा में दो दिन पहले दुकानों में आग लगने का मामला सामने आया है जहां रात्रि लगभग डेढ़ - दो बजे कई दुकानदारों का लाखों का सामान जलकर राख हो चुका था। कुल्लू प्रशासन ने कोई पुख्ता इंतजाम नहीं किए हुए थे यह इस वाक्य से साफ नजर आता लेकिन गनीमत यह रही की कोई जानी नुकसान इस हादसे में नहीं हुआ है।

राहत राशि के नाम पर किया गया मजाक: ग्लोबल ज्यूरिस्ट रजनीश शर्मा मौके पर उन प्रभावित दुकानदारों से मिलने पहुंचे। उन्होंने कहा राहत राशि के नाम पर इन लोगों से भद्दा मजाक किया गया है यह तो ऊंट के मुंह में जीरे के समान है।  प्रभावित दुकानदारों ने बताया कि हमारा लाखों का नुकसान आग लगने के कारण हुआ है लेकिन राहत के नाम पर सिर्फ 25 हजार की राशि ही दी गई।

मकान गिरवी रखकर लिया था पैसा : एक महिला जो दिल्ली से कुल्लू दशहरे में दुकान लगाने के लिए आई थी उसकी माने तो लगभग 10 लाख रुपए का नुकसान हुआ है जितना भी दुकान में सामान था वह सब जलकर राख हो चुका है। महिला बोली मैं अपना मकान गिरवी रखकर पैसा लिया था अब मेरे पास कुछ नहीं बचा है। कुल्लू प्रशासन से 68500 रुपए में दुकान खरीदी थी। सिर्फ 25000 रुपए राहत राशि के रूप में दिए गए है।

सिलेंडर लीक होने की वजह से लगी आग: प्रभावितों ने बताया हमारे टेंट के पीछे टेंट लगा हुआ था जिसमें सिलेंडर लीक हो रहा था जिसके बारे में हमने उन्हें कहा भी की इसे ठीक करवा लीजिए लेकिन वह स्थानीय लोग हमारे साथ लड़ने के लिए उतारू हो गए। 

कुल्लू प्रशासन और सरकार सुविधाएं देने में हुई फेल:ग्लोबल ज्यूरिस्ट रजनीश शर्मा ने सरकार और प्रशासन पर आरोप लगाया है की यह लोग बाहरी राज्यों से आए है और इन लोगों को डराया और धमकाया जा रहा है। राहत राशि के नाम पर भी भद्दा मजाक किया गया। उन्होंने कहा क्या कुल्लू प्रशासन को यह पता नहीं है की ग्रुप इंश्योरेंस भी करवाई जा सकती थी जिससे नुकसान की भरपाई आसानी से की जा सके। उन्होंने कहा दुकानें दोगुने दामों पर दी गई और मुआवजे के नाम पर सिर्फ 25 हजार रुपए दिए गए। रजनीश शर्मा ने कहा पूरे प्रदेश का मीडिया कुल्लू दशहरे में है लेकिन किसी ने इन लोगों के दर्द को दिखाने की कोशिश नहीं की यह बहुत शर्म की बात है।

फायर ब्रिगेड की गाड़ी में नहीं था पानी: अग्निकांड से प्रभावित लोगों ने कहां जब आग लगी तो फायर ब्रिगेड से संपर्क किया गया जब फायर ब्रिगेड की गाड़ी आई तो सिर्फ एक मिनट तक उससे पानी निकला और टंकी खाली हो गई उसके बाद दूसरी गाड़ी को बुलाया गया लेकिन तब तक सब खाक हो चुका था। आप इस बात से अंदाजा लगा सकते है की किस तरह के प्रबंध कुल्लू प्रशासन की तरफ से किए गए थे। 

आर्थिक सहायता करने की अपील: इस भीषण अग्निकांड में एक महिला जिसने अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरे में दुकान लगाई हुई थी उस महिला का लगभग 10 लाख रुपए का नुकसान हुआ है। इस महिला ने मकान गिरवी रखकर पैसा उधार लिया हुआ था। इस महिला की 4 बेटियां है। आप सभी दानी सज्जनों से अपील की इस महिला का आर्थिक सहयोग जरूर करें।

पंजाब नेशनल बैंक 

खाता संख्या : 3927001500126008

IFSC: PUNB0392700

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)
To Top