Himachal : Bilaspur : सरकारी भूमि पर अतिक्रमण को लेकर प्रशासन हुआ सख्त, यहां चलाया अवैध कब्जे पर हथौड़ा :पढ़ें पूरी खबर

Bilaspur :सरकारी जमीनों पर कुंडली मारे बैठे लोगों के लिए खतरे की घंटी बजनी शुरू हो गई है। जी हां सरकारी भूमि पर अतिक्रमण करने के साथ ही लोगों के आम रास्ते में बाधा बन रहे मकानों पर प्रशासन का हथौड़ा चलना शुरू हो गया है। 

इसी कड़ी में मंगलवार को स्वारघाट प्रशासन द्वारा ग्राम पंचायत री के गांव त्यून में सरकारी भूमि पर बनाए गए लैंटरनुमा मवेशीखाने को तोड़ा गया। दरअसल त्यून गांव के ही बाबू राम ने प्रशासन को शिकायत की थी कि गांव के ही एक व्यक्ति द्वारा रास्ते के साथ लगती सरकारी भूमि पर कब्जा जमाकर उस पर मकान खड़ा कर दिया है। 

शिकायत पर तमाम तफ्तीश के बाद अमलीजामा पहनाते हुए मंगलवार को अवैध कब्जे को गिरा दिया गया। पुलिस सुरक्षा के बीच लोक निर्माण विभाग के कर्मचारियों ने हथौड़ा चलाकर अतिक्रमण को गिराया। तहसीलदार स्वारघाट विपिन शर्मा ने बताया कि न्यायालय द्वारा दिए गए फैसले को अमल में लाते हुए इस सारी प्रक्रिया को अंजाम दिया गया।
Previous Post Next Post