हिमाचल : निजी बस चालकों व परिचालकों ने बस ऑपरेटर्स से रखी यह मांग


शिमला: राजधानी शिमला सहित प्रदेश में निजी बसों में सेवाएं दे रहे निजी बस चालक परिचालकों ने अपनी मांगे  निजी बस ऑपरेटर्ज प्रदेशाध्यक्ष  राजेश पराशर के समक्ष रखी है। मांगों को लेकर हिमाचल प्रदेश प्राईवेट ड्राईवर्ज, कंडक्टर यूनियन प्रदेशाध्यक्ष कमल ठाकुर की अध्यक्षता में  निजी बस ऑपरेटर्ज यूनियन अध्यक्ष से ऊना में मिले और अपनी मांगे उनके समक्ष रखी। 

इस मौके पर चालक परिचालकों ने अध्यक्ष को बताया कि चालक परिचालक कोरोना काल से प्रभावित हो रहे है और उनकी आर्थिक स्थिति भी कमजोर हैं। ऐसे में  उन्होंने प्रदेशाध्यक्ष से आर्थिक मदद करने की मांग की है। इसके अतिरिक्त परिचालकों को  मैडिकल सुविधा और भत्ता जारी करने सहित प्रदेश के सभी बस डिपो में रेस्ट रूम मुहैया करवाने , चालक परिचालकों को पहचान पत्र जारी कर मांग की है। 

इसके अतिरिक्त  बीमा करवाने सहित एच.आर.टी.सी भर्ती  में परिचालकों को प्राथमिकता दिलाए जाने की मांग को भी प्रदेशाध्यक्ष के सामने रखा। इस पर प्रदेशाध्यक्ष ने यूनियन पदाधिकारियों को आश्वस्त किया कि शीघ्र ही प्रदेश के 1200 के करीब बस ऑपरेटरों के साथ बैठक कर मांगों को पूरा किया जाएगा। वहीं जिन मांगों पर सरकार का अधिकार है उसके लिए प्रदेश सरकार के पास मांगे रखी जाएगी। 

इस मौके पर यूनियन महासचिव  सोनी, सचिव अखिल गुप्ता,   उपाध्यक्ष मनोज, कोषाध्यक्ष रूप लाल , प्रैस सचिव बबलू सहित नालागढ़ यूनियन के प्रधान सोम नाथ राणा सहित प्रदेश के अन्य शामिल रहे।
Previous Post Next Post