बिलासपुर : पुलिस बल की मौजूदगी में कार्य शुरू करने की कोशिश, किसानों ने किया हंगामा, ठेकेदार वापिस लौटे

News Updates Network
0
न्यूज अपडेट्स 
बिलासपुर, 06 फरवरी:  बिलासपुर और सोलन की सीमा पर त्रिवेणीघाट में अली खड्ड पर बनाई जा रही कीकर-नवगांव पेयजल योजना का निर्माण कार्य सोमवार को फिर से पुलिस की मौजूदगी में शुरू करने की कोशिश की गई। ग्रामीणों और किसानों के हंगामे के बाद वहां काम करने आए ठेकेदार और कामगारों को लौटना पड़ा।

मौके पर श्री नयनादेवी जी के विधायक रणधीर शर्मा भी पहुंचे। उन्होंने जल शक्ति विभाग के अधिकारियों से बात की। इसके बाद निर्णय लिया गया कि जब तक सरकार की ओर से गठित कमेटी कोई रिपोर्ट नहीं बनाती है तब तक योजना का कार्य बंद रखा जाएगा। दरअसल, सोमवार सुबह खड्ड के उस पार ठेकेदार और कामगार मौके पर कार्य शुरू करने पहुंचे। पुलिस के जवान भारी संख्या में वहां पहले ही तैनात कर दिए गए थे। काम शुरू होने की सूचना मिलने पर बिलासपुर के किसान और महिलाएं भी मौके पर पहुंच गईं। वह करीब ढाई घंटे तक काम शुरू करने का विरोध बिलासपुर की सीमा से करते रहे और काम को रुकवाए रखा। इस दौरान सीमेंट कंपनी, जल शक्ति विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी गई। 

इसी बीच विधायक रणधीर शर्मा वहां पहुंचे। उन्होंने जल शक्ति विभाग के अधिकारियों और मौके पर तैनात पुलिस के अधिकारियों से बात की। उन्होंने बताया कि सरकार की ओर से मामले के लिए कमेटी गठित की गई है। इसलिए वह निर्माण कार्य नहीं कर सकते हैं। इसके बाद कामगार और ठेकेदार वहां से लौट गए। पुलिस बल को भी हटा लिया गया। मामले की गंभीरता को देखते हुए बिलासपुर की ओर से भी पुलिस बल तैनात किया गया था। इस मौके पर रणधीर शर्मा ने कहा कि यह लड़ाई अर्की के लोगों से नहीं है। यह लड़ाई सरकार और विभाग से है। विभाग और सरकार को इस पर सही निर्णय लेना चाहिए। 

अर्की के लोगों को कोलडैम से पानी देना चाहिए। क्योंकि अली खड्ड में पानी पहले ही कम और इस पर कई पेयजल योजनाएं चल रही हैं। इस मौके पर अली खड्ड बचाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष रजनीश शर्मा सहित कई पंचायतों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)
To Top