हिमाचल सरकार को कांग्रेस हाईकमान का बुलावा - प्रदेशाध्यक्ष समेत सीएम - मंत्री और दो विधायक तलब

Anil Kashyap
0

Congress High Command's call to Himachal Government - State President along with CM - Minister and two MLAs summoned


न्यूज अपडेट्स 
शिमला, 25 दिसंबर: कांग्रेस हाईकमान ने हिमाचल सरकार व संगठन को अचानक दिल्ली तलब किया है। हाईकमान ने हिमाचल कांग्रेस के कर्णधारों को 27 दिसंबर को दिल्ली दरबार में हाजिरी भरने का न्योता दिया है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष प्रतिभा सिंह, मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू, डिप्टी CM मुकेश अग्निहोत्री सहित सभी कैबिनेट मंत्रियों को दिल्ली आने को बोला गया है।

बड़ी बात यह है कि कांग्रेस के 40 विधायकों में से केवल दो ही विधायक दिल्ली बुलाए गए हैं। सुजानपुर से दिग्गज नेता राजेंद्र राणा और धर्मशाला से सुधीर शर्मा को भी साथ बुलाया है। दोनों विधायक विधानसभा के शीतकालीन सत्र में सरकार से भी दूर-दूर नजर आए, क्योंकि दोनों कैबिनेट मंत्री बनने की रेस में शामिल थे। मगर दूसरे कैबिनेट विस्तार में दोनों ही मंत्रिमंडल में स्थान पाने से चूक गए हैं।

विधायकों को दिल्ली बुलाने से चढ़ा सियासी पारा: इन दोनों विधायकों को दिल्ली बुलाने से पहाड़ों पर सियासी पारा गर्म है। तपोवन धर्मशाला में हिमाचल विधानसभा के विंटर सेशन के बाद अब एक दिन का सियासी सेशन दिल्ली में होगा। सूत्र बताते हैं कि इसमें नाराज विधायकों की नाराजगी दूर करने, लोकसभा चुनाव की रणनीति, संगठन में बदलाव और कैबिनेट विस्तार को लेकर चर्चा हो सकती है। हिमाचल मंत्रिमंडल में अभी भी एक पद खाली है। 

दिल्ली दरबार से अचानक आए इस फरमान ने हिमाचल के भीतर हड़बड़ी का माहौल बना दिया है। दो नव नियुक्त मंत्रियों को भी अभी विभागों का आवंटन होना है। कई बोर्ड व निगमों में भी तैनाती होनी है। सरकार और संगठन में तालमेल को लेकर भी कई बार संग्राम जैसी स्थिति देखने को मिली है।

गारंटियां पूरी करने के मिल सकते हैं निर्देश: हाईकमान दिल्ली दरबार में प्रदेश कांग्रेस को एकजुट होकर आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटने के निर्देश देगा। प्रदेश सरकार को पार्टी द्वारा चुनाव में दी गई गारंटियां भी पूरे करने के निर्देश दिए जा सकते हैं।

प्रतिभा बोली-सभी प्रांतों की मीटिंग ले रहा हाईकमान: इसे लेकर जब कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष से पूछा गया तो उन्होंने माना कि हाईकमान ने दिल्ली बुलाया है। उन्होंने बताया कि इस मीटिंग का कोई खास मकसद नहीं है। सभी प्रांतों की हाईकमान मीटिंग कर रहा है। हिमाचल की मीटिंग भी काफी समय से प्रस्तावित थी। इसलिए अब 27 दिसंबर को बुलाई गई है।

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)
To Top