Himachal : एम्बुलेंस कर्मियों के पक्ष में उतरे नेता प्रतिपक्ष ,सरकार को दी यह चेतावनी : Read More

शिमला : हिमाचल प्रदेश में 108 ओर 102 एम्बुलेंस सेवा नई कम्पनी के हाथों में सौंपने के बाद कई कर्मियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है, जिससे कर्मियों में काफी रोष है। सोमवार को पीटर हाफ में विधायक प्राथमिकता की बैठक चल रही है। वहीं एम्बुलेंस कर्मी पीटरहॉफ पहुंचे जहां नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री से मिले और एम्बुलेंस कर्मियों को नई कम्पनी द्वारा बाहर निकालने की बात कहीं और सरकार के समक्ष इस मामले को उठाने की गुहार लगाई। 

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने एम्बुलेंस कर्मियों के साथ कांग्रेस का पूरा समर्थन देने का आश्वासन दिया और कहा कि प्रदेश में कोरोना काम मे 108 ओर 103 एम्बुलेंस कर्मियों ने अपनी सेवाएं दी और अब सरकार द्वारा इसका संचालन किसी ओर कंपनी को दे दिया। कंपनी द्वारा पिछले दस सालों से कर्मियों को अब बाहर का रास्ता दिखाने लगे है जिसे किसी सूरत में बर्दश्त नहीं किया जाएगा। 

उन्होंने कहा कि सरकार कंपनी को सभी गाड़ियां ओर पूरा सेटअप नई कम्पनी को दे रही है तो जो कर्मी पहले से काम कर रहे थे उन्हें ही कंपनी को रखना चाहिए। मुकेश ने कहा कि सरकार कंपनी को पैसे दे रही है जबकि यही कार्य सरकार अपने स्तर पर कार्य कर सकती है। पैसा सरकार का युवा प्रदेश के ओर ठेकेदार दलाली खा रहे है ये ठेकेदारी प्रथा खत्म होनी चाहिए और जो पैसा ठेकेदारो को दिया जाता है उसे सीधे काम करने वाले युवाओं को देना चाहिए। 

उन्होंने सरकार को संबंधित कंपनी को तुरंत निर्देश देने चाहिए कि जो कर्मी पहले से ही काम कर रहे है उन्हें ही नौकरी पर रखा जाए। वहीं बटालियन के जवानों के मेस में खाना छोड़ने पर भी मुकेश ने निशाना साधा और कहा कि ये सरकार निर्णय लेने में पूरी तरह से विफल हो गई है। प्रदेश भर में पुलिस जावनों ने मेस में खाना छोड़ दिया है और ये सरकार उन जवानों की जो बर्फ में ड्यूटी दे रहे है उनकी आवाज तक नहीं सुन रही है। सरकार तुरंत इन मसलों को हल करे।
Previous Post Next Post